Wednesday, 08 December 2021, 2:22 AM

हौसलों की उड़ान

अब गाॅवों हो प्रोजेक्टिव सरपंच चाहिये, रबर बैंड नहीं

Updated on 6 December, 2021, 8:09
गांव की महिलाओं को आर्थिक रूप से पुरुषों की कमाई पर निर्भर रहना पड़ता है। क्योंकि ज्यादातर गांवों में खेती ही आमदनी का जरिया होता है और बहुत कम महिलाएं ही मजदूरी के लिए घर से निकल पाती हैं। शहर जाकर काम करना उनके लिए मुश्किल टास्क है। ऐसे में... आगे पढ़े

शहर से गांव आकर इन दो बहनों ने बदली किसानों की ज़िंदगी

Updated on 16 October, 2021, 10:07
रोज़गार और बेहतर ज़िंदगी के अभाव में आज बड़ी संख्या में लोग गांवों से शहरों की ओर पलायन कर रहे हैं, हालांकि उत्तराखंड की दो बहनों ने इसके ठीक उलट कुछ ऐसा किया है जिससे एक ओर जहां उनके गाँव के किसानों की जिंदगी बेहतर हो रही है वहीं दूसरी... आगे पढ़े

इनका स्टार्टअप ऐसा कि रतन टाटा ने भी कर दिया इस प्रोजेक्ट में निवेश

Updated on 6 October, 2021, 6:39
आज लोगों की दैनिक समस्याओं के समाधान का उद्देश्य लेकर देश में रोजाना नए स्टार्टअप की शुरुआत हो रही है। कुछ स्टार्टअप आज वैश्विक स्तर पर नाम कमा रहे हैं तो कुछ स्टार्टअप को अपने शुरू होने के महज कुछ ही महीनों बंद होना पड़ जाता है। इन सब के... आगे पढ़े

गौमूत्र, दूध, हल्दी जैसी चीज़ों से बनाया खेती को सफल, विदेशों से भी सीखने आते हैं किसान

Updated on 27 September, 2021, 22:10
आमतौर पर खेती करने के लिए जमीन तैयार करने से लेकर, बीज लगाने और फसल पकने तक किसान कई तरह के केमिकल्स का इस्तेमाल करते हैं। ताकि उत्पादकता ज्यादा और मुनाफ़ा अच्छा हो। हालांकि हाल के दिनों में जैविक खेती के प्रति कई किसानों का रुझान बढ़ने लगा है। जिससे... आगे पढ़े

100 तरह के अचार बनाकर देशभर में हुईं मशहूर, होम शेफ बन गयीं सफल बिज़नेस वुमन

Updated on 27 September, 2021, 22:08
आम, नींबू, गोभी, गाजर के अचार तो लगभग सभी ने खाये होंगे। लेकिन क्या आपने कभी चिकन, मटन, प्रॉन का अचार खाया है? जी हां, आपने बिल्कुल सही पढ़ा। नॉन-वेज खाने वालों के लिए भी शायद यह नयी बात हो तो वेज वालों को तो भूल ही जाइए। अब सवाल... आगे पढ़े

रु. 300 की कबाड़ साइकिल को बदला सोलर साइकिल में

Updated on 26 September, 2021, 9:54
होनहार बिरवान के होत चिकने पात-  यह वाक्य शायद वड़ोदरा के नील शाह जैसे बच्चों के लिए ही कहा गया होगा। फिशरीज डिपार्टमेंट से रिटायर्ड नील के पिता प्रद्युम्न शाह भले ही मात्र सातवीं तक पढ़ें हों, लेकिन आज अपने बेटे को पढ़ाने के लिए हर मुमकिन प्रयास कर रहे... आगे पढ़े

बांस उत्पादों के साथ आदिवासी महिलाओं को सशक्त बना रहीं फाल्गुनी

Updated on 26 September, 2021, 9:35
फाल्गुनी जोशी इस बात को लेकर काफी परेशान थीं कि ओडिशा के नीलगिरी के आदिवासी समुदाय के लिए आजीविका का एकमात्र साधन खदानों में काम करना था, जो उनके स्वास्थ्य और कल्याण के लिए हानिकारक था।  आय का एक वैकल्पिक स्रोत बनाने के लिए, उन्होंने आदिवासी महिलाओं को बांस की बुनाई... आगे पढ़े

पहले पराली में उगाई मशरूम, फिर इसके वेस्ट से बनाये इको फ्रेंडली बर्तन

Updated on 24 September, 2021, 22:12
“किसी भी क्षेत्र में शोधकर्ता, सालों तक शोध करते हैं। लेकिन उनके शोध का प्रभाव आम आदमी तक पहुंचने में लंबा वक्त लग जाता है। मैंने भी बायोटेक्नोलॉजी में एमएससी और पीएचडी की। पढ़ाई के बाद अलग-अलग संस्थानों जैसे भोपाल में नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ हाई सिक्योरिटी एनिमल डिजीज और नेशनल इंस्टिट्यूट... आगे पढ़े

मुनाफे के वो बिज़नेस, जिन्हें आप शुरू कर सकते हैं मात्र 10 हज़ार रुपये में

Updated on 13 September, 2021, 22:51
बिजनेस एक ऐसा पेशा है जिसका क्रेज लोगों के बीच हर जमाने में बना रहा है। बीते कुछ सालों से भारत में भी युवाओं के बीच नौकरी को छोड़कर स्टार्ट अप या अपना खुद का बिजनेस शुरू करने की प्रवृत्ति काफी देखी गई है। आखिर हो भी क्यों न, दूसरों... आगे पढ़े

3 साल पहले बोनसाई प्लांट का स्टार्टअप शुरू किया, अब सालाना 7 लाख रु. का बिजनेस

Updated on 7 September, 2021, 9:20
आज कल शहरों में घर के सामने या छत पर गार्डनिंग और प्लांटिंग का क्रेज बढ़ा है। अब तो गांवों में भी लोग अपने घर की खूबसूरती के लिए गार्डनिंग कर रहे हैं। हालांकि कुछ साल पहले तक लोग या तो बड़े प्लांट लगाते थे या फिर सजावट के लिहाज... आगे पढ़े

बांस बनेगा आदिवासी महिलाओं के आमदनी का जरिया

Updated on 23 August, 2021, 8:44
मड़िहान  , उत्तर प्रदेश। मड़िहान के कॉमन सर्विस सेंटर में एक सुहानी सुबह, मॉनसूनी हवा का ठंडा झोंका आदिवासी महिलाओं के मुस्कुराते हुए चेहरों को छूकर गुजर जाता है। ये महिलाएं दरी पर बैठी हैं और उनके आसपास बांस के अलग अलग आकार और शेड के टुकड़े रखे हैं। पास... आगे पढ़े

हमेशा अपने दम पर काम करना चाहती थी,इसलिए खड़ी कर दी अपनी कंपनी

Updated on 23 August, 2021, 8:38
         "शिवानी अग्रवाल स्क्राफ्ट (Scraft) की संस्थापक हैं, जो टिशू पेपर, टॉयलेट और किचन रोल, क्लिंग फिल्म और एल्युमिनियम फॉयल जैसे डिस्पोजेबल का निर्माण करती है। महामारी के दौरान, वॉलमार्ट के वृद्धि प्रोग्राम (Vriddhi programme) की मदद से, उन्होंने सैनिटाइजर और सैनिटाइजिंग वाइप्स बनाए और उनका निर्यात... आगे पढ़े

भाई-बहन ने शुरू किया ऐसा किड्सवियर ब्रांड, जिसे लड़का-लड़की दोनों पहन सकते हैं

Updated on 23 August, 2021, 8:32
जेंडर-न्यूट्रल फैशन धीरे-धीरे बढ़ रहा है, लेकिन जब किड्स और बेबीवियर की बात आती है, तो खुदरा दुकानों में अभी भी पुरानी कहावत सच दिखाई पड़ती है कि - गुलाबी कलर लड़कियों के लिए और नीला लड़कों के लिए होता है।  इसे बदलने के लिए, अनुष्का झावर और अर्जुन दोशी की... आगे पढ़े

इन दो दोस्तों का अनूठा स्टार्टअप आर्थिक समृद्धि के साथ धरती को बचा रहा है

Updated on 12 August, 2021, 6:16
एक स्थायी जीवन शैली की आवश्यकता हमेशा से रही है। हमसब अपनी आने वाली पीढ़ी के लिए जो कुछ भी है उसे संरक्षित करना चाहते हैं, तो फिर पृथ्वी और उसके संसाधनों को क्यों नहीं? अधिकांश देशों ने सतत विकास को बढ़ावा देने के लिए संयुक्त राष्ट्र सम्मेलनों में अपनी... आगे पढ़े

लक्ष्य बड़ा हो तो लोग पहले अविश्वास करते हैं, पर इरादे की अडिगता दिलाती है बड़ी सफलता

Updated on 12 August, 2021, 5:51
           भारत में किसानों की दुर्दशा से हम सब परिचित हैं। बदलते वक्त के साथ खेती-किसानी के क्षेत्रों में भी आधुनिक तकनीक एवं पद्धति की आवश्यकता है। लेकिन, ज्यादातर किसानों के बीच जागरूकता की कमी ही उनकी दुर्दशा का मूल कारण है। ऐसे में हम सब... आगे पढ़े

आप अपनी चोखट पर ही कमा सकते हैं पैसा बस आपमें हुनर होना चाहिए

Updated on 12 August, 2021, 5:42
हम में से कई लोग अपनी नौकरी में बने रहने के लिए संघर्ष करते हैं, और किसी और को अपनी प्रतिभा से अपना ब्रांड बनाने में मदद करते हैं। हालांकि सब लोगों की यह चाहत होती है कि उनका ख़ुद का साम्राज्य हो। लेकिन सिर्फ कुछ लोगों में ही जोख़िम... आगे पढ़े

हुनर है तो पैसा है, कैसे? पढ़िये इन दो दोस्तों की सफलता की कहानी

Updated on 12 August, 2021, 5:29
              विश्व स्वास्थ्य संगठन के आँकलन के अनुसार हर वर्ष लगभग 35 अरब जूते फेंक दिए जाते हैं वहीं 1.5 अरब लोग पैर के इन्फैक्शन की दर्द को झेलते हैं और ऐसा उनके असुरक्षित नंगे पैर रहने के कारण से होता है। कितने ही... आगे पढ़े

डिजिटल सोशल कॉमर्स से शुरू किया बिजनेस, हर महीने कमा रहीं 2 लाख रुपये

Updated on 5 August, 2021, 21:34
महिला आंत्रप्रेन्योर्स के लिए वर्चुअल शॉप्स शुरू का सोशल कॉमर्स तेजी से सबसे पसंदीदा प्लेटफॉर्म बन गया है। लोग महामारी के दौरान बिजनेस शुरू करने के लिए अधिक जोखिम उठाने के लिए तैयार हो रहे हैं। ऐसे कई लोग हैं, जो स्मॉल बिजनेस शुरू करने और इसके आसपास एक कॉम्यूनिटी... आगे पढ़े

भारतीयों के लिए खरीदारी के 'फिजिटल फ्यूचर' का निर्माण कर रहा है दिल्ली स्थित यह स्टार्टअप

Updated on 1 August, 2021, 23:23
अगस्त 2020 में स्थापित, 335बाजार (335bazaar) उपभोक्ताओं को सीधे फैक्ट्री-टू-कंज्यूमर मॉडल के माध्यम से स्टोर को बदलकर और सस्ती कीमतों पर उत्पादों की पेशकश करके मॉल जैसा अनुभव प्रदान करता है, और ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से खरीदारी करने की सुविधा भी प्रदान करता है। ई-कॉमर्स ने निश्चित रूप से... आगे पढ़े

सात फेरों के बाद अनोखा उपहार जो ,जीवन के लिए सांसे बचाता है

Updated on 22 July, 2021, 22:33
हमारे आसपास हरियाली रहे, इसकी कल्पना तो हर कोई करता है लेकिन ऐस लोग बहुत कम होते हैं, जो इस नेक काम के लिए कदम बढ़ाते हैं। आज हम आपको छत्तीसगढ़ के एक ऐसे शख्स से मिलवाने जा रहे हैं जो न केवल वृक्षारोपण कर रहे हैं बल्कि अनोखे तरीके... आगे पढ़े

मूर्तियों को रिसाइकल कर बच्चों के लिए खूबसूरत खिलौने बनाती हैं तृप्ति

Updated on 22 July, 2021, 22:27
नासिक की तृप्ति गायकवाड़ भगवान की टूटी हुई मूर्तियों को रिसाइकल करने का काम करती हैं। तृप्ति एक वकील होने के साथ ही पेशेवर इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर भी हैं। तृप्ति अपने प्रोजेक्ट ‘संपूर्णम’ के तहत बीते दो सालों से भगवान की खंडित हो चुकी मूर्तियों और खराब हो चुकी तस्वीरों को इकट्ठा कर... आगे पढ़े

COVID-19 से प्रभावित था परिवार, हिम्मत के बुटीक से किया रोजगार का सृजन

Updated on 12 July, 2021, 7:46
"छह बहनों में से एक भावना ने आठ साल की उम्र में अपने पिता को खो दिया था और सिलाई के काम में अपनी मां की मदद करनी शुरू कर दी थी। जब वह 10वीं कक्षा में थी, तब तक उन्होंने कपड़े सिलना और विभिन्न प्रकार की कढ़ाई करना शुरू... आगे पढ़े

कोराना की बेरोजगारी में रोजगार दे रहा इनका किम्मू किचन

Updated on 12 July, 2021, 7:43
"अपने पति और बच्चों से भरपूर समर्थन के साथ, बिना औपचारिक शिक्षा के 50 वर्षीय महिला ने किम्मू किचन शुरू करने का फैसला किया। यह एक स्टार्टअप है जो ताजा घी बनाने में महारत रखता है, जो कि एडिटिव्स, प्रिजर्वेटिव या केमिकल से फ्री होता है - और पारंपरिक बिलोना... आगे पढ़े

एक नानक ये भी, जिनके आने से आ जाती है वैक्सीन सेंटरों पर खुशियों की बहार

Updated on 10 July, 2021, 22:28
औबेदुल्लागंज। गुरुनानक देव जी ने उस काल के सामाजिक और धार्मिक मूल्यों की नींव ही हिला दी थी। उन्होंने पहली बार लोगों को यह विचार दिया कि मनुष्य का सामाजिक जीवन में कुछ करने की ललक हो तो कोई बाधा राह नहीं रोक सकती। ऐसे ही हैं विकासखण्ड औबेदुल्लागंज के... आगे पढ़े

ऑर्गेनिक सैनिटरी पैड्स का स्टार्टअप ,जान भी बचा रहा, पैसे भी कमा रहा

Updated on 15 June, 2021, 7:45
महाराष्ट्र के ठाणे जिले में रहने वाली सुजाता पवार ने पिछले साल अगस्त में रियूजेबल और ऑर्गेनिक सैनिटरी पैड्स का स्टार्टअप शुरू किया। आज भारत के साथ ही नेपाल, सिंगापुर, न्यूजीलैंड जैसे देशों में भी वे अपने प्रोडक्ट की सप्लाई कर रही हैं। पिछले 10 महीने में सुजाता ने करीब 22 लाख... आगे पढ़े

ऑटोवाला बना लखपति बिज़नेसमैन, किसानों से मशरूम खरीदकर बनाते हैं फ़ूड-आइटम

Updated on 13 June, 2021, 8:22
‘बिना जमीन के खेती करें और महीने में लाखों रुपए कमाएं’, साल 2001 में रामचंद्र एस दूबे ने जब अखबार में यह विज्ञापन पढ़ा, तो उन्हें लगा कि कोई है जो लोगों को बेवकूफ बना रहा है। इसलिए, उन्होंने तुरंत विज्ञापन छपवानेवाली कंपनी को फोन करके कहा कि यह संभव... आगे पढ़े

घर चलाने के लिए बनाने लगी थीं खाखरा, 60 साल में बन गया मशहूर ब्रांड

Updated on 13 June, 2021, 8:20
देश हो या विदेश, गुजराती लोग जहां भी जाते हैं, अपना नाश्ता साथ ही लेकर जाते हैं। यही वजह है कि आज कई गुजराती स्नैक्स, देश-विदेश तक लोकप्रिय हो गए हैं। गुजरात के हर घर में सुबह-शाम गाठिया, फाफड़ा, भाकरवड़ी, खाखरा जैसे स्नैक्स बड़े चाव से खाए जाते हैं। आज... आगे पढ़े

ONLY - 50,000 रुपये के निवेश से खड़ा किया 10 करोड़ रुपये का कारोबार

Updated on 1 June, 2021, 9:19
दिल्ली की ज्योति वाधवा गृहिणी होने के अलावा दो साल की बच्ची की माँ हैं। साल 2010 की बात है जब एक दिन उनके पति अंशुल बंसल घर आए और ज्योति से बोले कि वे अपनी निवेश बैंकर की नौकरी छोड़ना चाहते हैं। उस समय अंशुल अपने परिवार के एकमात्र... आगे पढ़े

मुंबई का यह शख्स कोरोना के दौरान ज़रूरतमंद लोगों को कुछ इस तरह खिला रहा है खाना

Updated on 1 June, 2021, 9:16
मुंबई के भांडुप के रहने वाले जॉन बेंजामिन नादर करीब आठ-नौ साल से समाजसेवा कर रहे हैं। उनका कहना है कि वह अपनी मां से प्रेरित हैं, जो पिछले 20 सालों से मुंबई के रेड लाइट इलाकों से तस्करी की गई लड़कियों को छुड़ा रही है। 2018 में उनके पिता भी एक... आगे पढ़े

कोराना काल के दौरान दादी की हाण्डी बनी रोजगार का माध्यम

Updated on 1 June, 2021, 8:51
“मैं चाहे किसी भी बर्तन में रसम बना लूँ, लेकिन मेरी दादी के ईय चोम्बू (टिन का बर्तन) में बने रसम का स्वाद, हमेशा सबसे अच्छा और अलग होता है। मेरी दादी अपने परंपरागत बर्तनों (Traditional Cookware) में, दुनिया का सबसे अच्छा कटहल का हलवा बनाती हैं।” यह कहना है,... आगे पढ़े